रोटी बनाइए मिट्टी के तवे पर और देखिए फिर इसके चौकाने वाले फायदे

मिट्टी के तवे हमारे देश भारत वर्ष में पहले से ही मिट्टी के बर्तनों का इस्तेमाल होता रहा है परंतु आज की जो आधुनिक जीवनशैली है उसमें इन मिट्टी के बर्तनों को भुला दिया गया है परंतु जैसे-जैसे मनुष्य परेशान होता गया है बीमार होता गया है तो धीरे-धीरे अपनी पुरानी जीवन शैली की तरफ भी लौट रहा है यदि देखा जाए तो पिछले काफी समय में मिट्टी के बर्तनों की काफी डिमांड बढ़ी है और मिट्टी के बर्तन दोबारा प्रचलन में आने शुरू हो चुके हैं।

मिट्टी के तवे में बनी रोटी खाने के फायदे

रोटी बनाइए मिट्टी के तवे पर और देखिए फिर इसके चौकाने वाले फायदे

आप सभी ने भी यह बात कही ना कही सुनी तो होगी कि मिट्टी के बर्तन में जो खाना बनता है मिट्टी के तवे पर रोटी बनती है उसके अनेकों फायदे होते हैं आयुर्वेद में भी कहा जाता है कि जो भोजन जितना धीमा धीमा पकता है उसका प्रभाव उसके अच्छे गुण भी उतने ही ज्यादा होते हैं और वह हमारे शरीर के लिए अमृत होता है इसीलिए पहले के लोग मिट्टी के बर्तनों का इस्तेमाल किया करते थे।

आयुर्वेद के अनुसार मिट्टी के तवे के फायेदे

आयुर्वेद के अनुसार भोजन जितना धीरे-धीरे पकेगा वह भोजन उतना ही गुणों से भरपूर होगा लेकिन आज जो बर्तन इस्तेमाल हो रहे हैं जैसे एल्युमीनियम, स्टील इसमें भोजन काफी तेजी से पकता है जिसके कारण भोजन की गुणवत्ता खत्म हो जाती है और वह जहर बन जाता है हमारे स्वास्थ्य के लिए।

चलिए जानते हैं मिट्टी के तवे पर यदि आप रोटी बनाकर खाते हैं तो उसके आपको क्या-क्या फायदे होते हैं।

पेट की गैस को दूर भगाएं

यदि आपको पेट में गैस बनती है और आप इस गैस से काफी ज्यादा परेशान रहते हैं तो अब मिट्टी के तवे पर बनी रोटी खाइए फिर देखिए आपकी पेट में जो गैस बनती है वह कैसे छूमंतर हो जाती है।

2. मिट्टी के तवे रोटी का स्वाद और पौष्टिकता को बढ़ाएं

यदि आप मिट्टी के तवे पर बनी रोटी खाते हैं तो उस रोटी का स्वाद भी बढ़ जाता है और उसकी जो पौष्टिकता है वह बढ़ जाती है। ये रोटी गुणों की खान हो जाती है और आपके जो खतरनाक बीमारियां हैं वह सब दूर भागती हैं।

3. कब्ज की परेशानी को दूर करें

आजकल के मनुष्य की जीवन शैली ऐसी हो गई है कि उसे कब्ज जैसा रोग काफी जल्दी हो जाता है और अकेली कब्ज आपको अनेकों रोगों से घेर लेती है अपने शरीर में अनेकों प्रकार के रोग आ जाते हैं यदि आपको कब्ज हो जाती है तो कब्ज से आप काफी आसानी से छुटकारा पा सकते हैं यदि आप मिट्टी के तवे पर बनी रोटी खाते हैं तो आपको इस बीमारी से राहत बड़ी जल्दी मिल जाएगी।

4. मिट्टी के बर्तनों में ऐसी क्या खासियत है जो हम इन्हें इस्तेमाल करें

आजकल लोग ऐलुमिनियम के बर्तन में खाना पकाते हैं जिसके अंदर 87 प्रतिशत पोषक तत्व खत्म हो जाते हैं और यदि आप पीतल के बर्तन में खाना बनाते हैं तो उसके मात्र 7% पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं और यदि आप कांसे में खाना बनाते हैं तो उसके 3% पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं यदि आप मिट्टी के बर्तन में खाना बनाते हैं तो 100% पोषक तत्व बने रहते है।

How to clean mitti ka tawa

सावधानी क्या रखें यदि आप मिट्टी के बर्तनों का इस्तेमाल करते हैं तो आपको मालूम होना चाहिए इसमें सावधानी क्या रखनी चाहिए मिट्टी के तवे को इस्तेमाल करने के बाद कभी भी पानी से ना धोए इसको सूखे कपड़े से ही साफ करके रखें अधिक तेज आंच पर इसको ना रखें क्योंकि ऐसा करने से ये चटक सकता है। इसे धोने में साबुन का इस्तेमाल तो बिल्कुल भी ना करें क्योंकि साबुन को अपने अंदर समाहित कर लेगा और जो कि नुकसानदायक होगा

तो दोस्तों यह लेख आपको अच्छा लगा यह जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करना जिससे और भी व्यक्ति तक यह जानकारी पहुंच सके और वह लाभ उठा सकें। आप को नमस्ते जय श्री राम

 

मिट्टी के बर्तन ऑनलाइन,मिट्टी के बर्तन बनाने की विधि,मिट्टी के तवे में बनी रोटी खाने के फायदे ,how to use clay tawa for first time,how to season clay tawa,clay tawa recipes,how to clean mitti ka tawa,patanjali mitti ka tawa,clay tawa with handle,clay dosa tawa,how to clean clay tawa

Comments

comments

Leave a Reply